BAAL JHAROKHA SATYAM KI DUNIYA HAM NANHE MUNNON KA

Thursday, October 6, 2011

कुल्लू दशहरा में प्रभु श्रीराम के दर्शन-









आओ मेरे प्यारे नन्हे दोस्तों आज कुल्लू दशहरा घूमें जय प्रभु श्री राम....अयोध्या के श्री राम की एक मूर्ति यहाँ भी दर्शन करें .....

बच्चे मन के सच्चे हैं फूलों जैसे अच्छे हैं मेरी मम्मा कहती हैं तुझसे जितने बच्चे हैं सब अम्मा के प्यारे हैं --

8 comments:

चैतन्य शर्मा said...

विजयदशमी की शुभकामनायें ....जय श्रीराम

रविकर said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति ||
शुभ विजया ||

surendrshuklabhramar5 said...

आदरणीय रविकर जी हार्दिक अभिवादन सौभाग्य से कुल्लू में प्रभु श्री राम के दर्शन हुए और मन में आया आप सब के बीच भी इस शुभ कार्य को बांटा जाए .--
विजय दशमी की हार्दिक शुभ कामनाएं
आभार आप का
भ्रमर ५

surendrshuklabhramar5 said...

प्रिय चैतन्य जी हार्दिक प्यार आप के साथ मम्मा और पप्पा को भी विजय दशमी की हार्दिक शुभ कामनाएं कैसा लगा मेला ? सौभाग्य से कुल्लू में प्रभु श्री राम के दर्शन हुए और मन में आया आप सब के बीच भी इस शुभ कार्य को बांटा जाए .--

आभार आप का
भ्रमर ५

मदन शर्मा said...

' सत्यम ,शिवम्, सुन्दरम ' । जो सत्य है वही शिव है, जो शिव है वही सुंदर । पर बात वहीं आकर् अटक जाती है , क्या है सत्य ? जो है वो , सत्य जीवन को शिव और सुंदर बनाये ? या यूं ऐ कहें की जीवन को जो शिव और सुंदर बनाये वही सत्य ? शायद यही सत्य है । बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश देते हुए हर्षोल्लास के साथ गुरुवार को दशहरा पर्व पर कई लीलाओं में भ्रष्टाचार , महंगाई और घोटाले आदि के नाम से बनाया गया आज का रावण का पुतला भी जलाया गया। श्रीराम के अलावा प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी ने भी तीर चलाकर बुराई पर अच्छाई का संदेश देते हुए पुतलों का दहन किया। रामलीला में रावण , कुंभकर्ण और मेघनाद के अलावा चौथे पुतले के रूप में भ्रष्टाचार का पुतला भी बनाया गया था। किंतु सत्य यही है की भ्रष्ट्राचार को बढ़ावा देने वाले रावण और सूर्पणखा ने ...दुर्भाग्य है इस देश का...रावण ही जीत गया... रावण जीत ही गया

मदन शर्मा said...

आदरणीय सुरेन्द्र शुक्ल जी हार्दिक अभिवादन
बहुत सुन्दर प्रस्तुति .....
विजय दशमी की हार्दिक शुभ कामनाएं....

मदन शर्मा said...

' सत्यम ,शिवम्, सुन्दरम ' । जो सत्य है वही शिव है, जो शिव है वही सुंदर । पर बात वहीं आकर् अटक जाती है , क्या है सत्य ? जो है वो , सत्य जीवन को शिव और सुंदर बनाये ? या यूं ऐ कहें की जीवन को जो शिव और सुंदर बनाये वही सत्य ? शायद यही सत्य है । बुराई पर अच्छाई की जीत का संदेश देते हुए हर्षोल्लास के साथ गुरुवार को दशहरा पर्व पर कई लीलाओं में भ्रष्टाचार , महंगाई और घोटाले आदि के नाम से बनाया गया आज का रावण का पुतला भी जलाया गया। श्रीराम के अलावा प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी ने भी तीर चलाकर बुराई पर अच्छाई का संदेश देते हुए पुतलों का दहन किया। रामलीला में रावण , कुंभकर्ण और मेघनाद के अलावा चौथे पुतले के रूप में भ्रष्टाचार का पुतला भी बनाया गया था। किंतु सत्य यही है की भ्रष्ट्राचार को बढ़ावा देने वाले रावण और सूर्पणखा ने ...दुर्भाग्य है इस देश का...रावण ही जीत गया... रावण जीत ही गया

Surendra shukla" Bhramar"5 said...

बहुत सुन्दर विचार आप के मदन भाई क्या करें इस समय असली राम की जरुरत थी जो रावण को वहीं का वहीं .....फिर इतना सब कुछ करने मरने की जरुरत ही नहीं होती --
सार्थक लेख आप का
भ्रमर ५