BAAL JHAROKHA SATYAM KI DUNIYA HAM NANHE MUNNON KA

Wednesday, November 16, 2011

सबसे कम उम्र में राष्ट्रीय बाल पुरस्कार का कीर्तिमान अक्षिता "पाखी" के नाम -बाल दुनिया से उद्धृत

बाल दिवस, १४ नवम्बर पर विज्ञानं भवन , नई दिल्ली में आयोजित एक भव्य कार्यक्रम में महिला और बाल विकास मंत्री माननीय कृष्ण तीरथ जी ने हमारी सब की प्रिय नन्ही ब्लागर अक्षिता "पाखी" को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार -२०११ से पुरस्कृत किया जो की वहां आये बच्चों में से सब से कम उम्र की थी और एक रिकार्ड कायम हुआ 


सबसे कम उम्र में राष्ट्रीय बाल पुरस्कार का कीर्तिमान अक्षिता "पाखी" के नाम






















अक्षिता "पाखी" को ढेर सारी शुभ कामनाये ये सच में गौरव का क्षण था ...हम समारोह में शामिल नहीं रहे तो क्या हुआ सब कुछ देख मन ख़ुशी से उछल पड़ा ...
भविष्य उज्जवल हो .......और ढेर सारा प्यार .........आओ सब बच्चों इस से हम सब सीखें और अपने को ऊर्जा से भर इस समाज और देश के लिए कुछ करें 
भ्रमर ५ 




बच्चे मन के सच्चे हैं फूलों जैसे अच्छे हैं मेरी मम्मा कहती हैं तुझसे जितने बच्चे हैं सब अम्मा के प्यारे हैं -

5 comments:

SR Bharti said...

यह हम सबके लिए बेहद गौरव की बात है कि अक्षिता 'राष्ट्रीय बाल पुरस्कार' को प्राप्त करने वाली सबसे कम उम्र की प्रतिभा है.यही नहीं यह प्रथम अवसर था, जब किसी प्रतिभा को सरकारी स्तर पर हिंदी ब्लागिंग के लिए पुरस्कृत-सम्मानित किया गया. वाकई एक साथ दो रिकार्ड...अक्षिता को इस अवसर पर बधाइयाँ और उनके मम्मी-पापा श्रीमती आकांक्षा जी और श्री कृष्ण कुमार यादव जी को नमन, जिन्होंने अपनी सु-पुत्री को इस योग्य बनाया.

Bhanwar Singh said...

इत्ती सी उम्र और इतनी बड़ी कामयाबी. अक्षिता (पाखी) जी ने तो ब्लागिंग को सरकारी स्तर पर भी मान्यता दिला दी. आखिर पहली हिंदी-ब्लागर जिसने ब्लागिंग के लिए कोई पुरस्कार राजकीय स्तर पर हासिल किया. नेशनल चाइल्ड अवार्ड के लिए ढेरों शुभकामनायें.

surendrshuklabhramar5 said...

प्रिय यार आर भारती जी आप ने सच कहा ये गौरव का क्षण है हिंदी और ब्लागिंग जगत की तरफ ध्यान जाना सुखद रहा अब रविन्द्र प्रभात जी और मान्यवर गन ब्लागर अकादमी के लिए कोशिश करने जा रहे हैं आये सब मिल हिंदी साहित्य को इस का मान देते बढे चलें
आभार आप का ..आप अपना समर्थन भी दें तो जुड़ने में आसानी होगी
शुक्ल भ्रमर ५

surendrshuklabhramar5 said...

भंवर सिंह यादव जी बड़ी सुन्दर पत्रिका सुन्दर लेख व् रचनाएँ ..आप की यदु कुल के बारे में
लेकिन आइये हम केवल किसी एक कुल से और ऊंचे उठ सभी प्रतिभाओं का सम्मान करें और अच्छाइयों को निखारते हिंदी ब्लागिंग जगत को मान दिलाएं ..सारे समाज को एक साथ ले कर चलें मानवता को प्यार करें ....

अक्षिता पाखी और कृष्ण कुमार जी को ढेर सारी शुभ कामनाएं ..सरकार का ध्यान ऐसे ही मिल आओ सब हिंदी जगत ब्लागिंग की तरफ ले चलें ..
शुभ घडी आती रहे -रविन्द्र प्रभात और अरविन्द जी आदि को भी ब्लागर अकादमी की कोशिश के लिए शुभ कामनाएं और आभार
भ्रमर ५

surendrshuklabhramar5 said...

प्रिय भारती जी आप के ब्लॉग पर जा आम्रपाली की सैर की बड़ा आनन्द आया ..आप को कैसा लगा मेरी प्रतिक्रिया ..
अभिवादन आप का यहाँ पर
भ्रमर ५